एक रिश्ता – डायरी के साथ

खुशियों से है नाराजगी,पलकों को इश्क है अश्कों से..लाख मरतबा किया कोशिशनाता टूट जाए कलम से… नींद की है शिकायत मेरे तहरीर से,पलकों को ना जगाया कर..भावनाओं की भी है यही गुजारिश,दास्तान मेरी जिंदगी का सुन लिया कर.. लब खामोश ही महफूज है,बोलने की जुरमाना अदा जो कर चुके हैं…अब तो अल्फाजों को नज़्म मेंContinue reading “एक रिश्ता – डायरी के साथ”

Topic – Fire

दिल में जलाए रखना ये आग 🔥 तू,खुद को बेहतर बनाने के लिए….उस आग 🔥 में खुद को जला मत देना,किसी और की दुनिया आबाद करने के लिए… बन जायेगा तू राख एक दिन,लोगों की मुश्किलों को समेट ते समेट ते…राख भी दरिया में बह जायेंगे एक दिन,खुद की ख्वाइशों को मिटाते मिटाते… तेरी तसव्वुरContinue reading “Topic – Fire”