#unconditionallove

Inspired by the song ” main phir bhi tumko chahunga” किसी से बेइंतेहा मोहब्बत हम करे, और वो भी हमें चाहने लगे, … ये जरूरी नहीं …. दा – उम्र हम उनका इंतजार करे, और वो मीलजाए हमें ऐसी उम्मीद रखना, …ये जरूरी नहीं…. दिल कहे उन पे कुर्बान हो जाएं, बदले में शायद हीContinue reading “#unconditionallove”

#Poetry

Wrote it after a long time.. लोगों को अक्सर ये सलाह देते हुए सुना है, कब तक रहोगे अकेले , क्यूं कोई हमसफ़र नहीं चुना है। ना होता हर कोई एक जैसा जो वफा ना निभाए, मौका दो खुदको शायद ही कोई मिलजाए। दिक्कत बस इतनी सी है जनाब: आज कल का प्यार मेरे समझContinue reading “#Poetry”

Happy mother’s day

खुदा से भी ऊंची दरजा है तेरी, तेरी कोख से सुरु होती दुनिया ये मेरी, ये जिंदगी तेरी ही देन है मा, तेरे जैसी ना कोई और है मा। उंगली पकड़ के चलना तूने सिखाया, हर मोड़ में मिला मुझे तेरा साया, इस दुनिया से लड़ पाऊं अपनी वजूद के खातिर, इस काबिल तूने आजContinue reading “Happy mother’s day”

Gulab – 🌹 Rose

चाहे करना हो प्यार का इजहार, या फिर हो दोस्ती की शुरूवात, रूठे यार को मनाना हो, या हो अपने मेहबूब से मुलाक़ात, अपनी खुसबू और खूबसूरती से लुभाता है ये गुलाब🌹 कहते हैं प्यार की परिभाषा है ये गुलाब🌹 कभी किताबों के बीच याद बनके रेहजाती है, मुरझाए पंखुड़ियां भी बीती कहानी बयान करजातीContinue reading “Gulab – 🌹 Rose”

#Truth-lie ( sach-jhooth)

कहते हैं भरोसे पे दुनिया कायम है, पर ये भरोसा है कहां? झूठ इस कदर चारोऔर छाया है, सच को नाजाने में ढूंडू कहां? कभी अनजाने में जूठ को यकीन करलिया था, अब तो होशो आवाज़ में जुठ को सच मान लेती हूं। क्या करूं, ये कमबख्त ईमानदारी हमसे छूटती नहीं, अब तो हर हालContinue reading “#Truth-lie ( sach-jhooth)”

Intezar Aur sehi # Waiting

इम्तहान यूं जिंदेगी लेती रही, कायनात भी ये इसरा देती रही, मंजिल अब जादा दूर नहीं, बस थोड़ा इंतजार और सही। पाने की ख्वाहिश तो है, पर इंतजार रहेगा उम्र भर, शिद्दत से कौशिश करेंगे हम, बाकी ना रहेगी कोई कसर। उम्मीद तो है पर निश्चित नहीं में, ये चाह मुकम्मल होगी या नहीं, परContinue reading “Intezar Aur sehi # Waiting”

#Reality

An incident which actually inspired me alot. अक्सर मैं अपनी तकलीफों से रोती, जो मांगा, क्यूं ना मिला ये अब्सोस मनाती, पर आज जब आंख खुली और नजर घुमाया चारो ओर, उन लोगों की बेबसी गूंजे बार बार बनके शोर। सड़क किनारे एक छोटी सी दुकान है उसका, खुले छत की दुकान बनगया था मकानContinue reading “#Reality”

Kehne Ko Humsafar hain

A thought came after watching the webseries Kehne Ko Humsafar Hain Season 2 – Ronit Roy, Mona Singh That thought made me to write this. कहने को हमसफर हैं। होती हैं बातें अक्सर, चाहत नहीं जरूरत बनकर, साथ होते तो हैं एक दूसरे के, सायद मिलते हैं अजनबी होकर। कहने को हमसफर हैं। वो प्यारContinue reading “Kehne Ko Humsafar hain”

The Moon & my imagination

इस मसरूफ जिंदेगी से रुकसत हुए हम, तो नजर तुझपे आ गिरी, ए चांद तेरे हुस्न को ताकते रहे और ये दिल तुझपे बारी। एक अकेला तू, मिटा के रात का अंधेरा। अपनी रोशनी से करे ये जग उजियारा। अल्फाज़ की कमी है तेरे दीदार को, तुझ बिन तो हर सवेरा भी है अधूरा। #photographyContinue reading “The Moon & my imagination”