Hindusthan – secular country

किस बात की है ये लड़ाई,क्यूं हो रहे हैं ये दंगे….धरम के नाम परना करवाओ ये पंगे….. हिन्दुस्तान की सरजमीनहक देता हर हिंदुस्तानी को…जाहिर करने को अपनी जज्बातचाहे वो हिंदू हो या मुसलमान को… माना आज़ादी है अपनी बात रखने कीपर इस देश को तबाह करने का अधिकार नहीं…ये राजनीति है जनाब छल कपट कीमजहबContinue reading “Hindusthan – secular country”

New year ( New beginning)

I know i am late to post this poem. But still love to… एक नया साल, एक नई सदी की शुरुआत होगेई,कहीं कहानी ख़तम हुई तो कुछ नई कहानी बन गई। बस यादें रेहगए , कुछ खट्टे कुछ मीठे…बिगड़े रिश्ते जुड़े कहीं तो ,कहीं कुछ अपने है रूठे। इस सदी ने भी नजानें रचे कितनेContinue reading “New year ( New beginning)”

ख़ामोशी – #Silence

क्यूं ये हवा बेरुखी सी है…राहें भी कुछ धुंधली सी है..ख़ामोश रहती हूं अक्सर आज कल,फिर भी सोर सेहनई सी गूंजती है। झिझक ती हूं बयान करने से…क्यूं की लोग अक्सर सलाह अपने सहूलियत से देते हैं।गुजरते हैं हम उलझनों से…पर चंद बातों से लोग उपाय भी तय करते हैं। अपने जज्बात जाहिर करने सेContinue reading “ख़ामोशी – #Silence”

#Metime

My thought after watching “House Arrest ” in Netflix. Spend sometime for yourself , you will start loving youself. कभी खुद के साथ वक्त बिता लेना चाहिए, खुद से गुप्तगु भी कभी कर लेना चाहिए, क्यों ना वो पल हो किताबो के साथ…. या हो घंटो पोधौं के संग बात….. बालकनी से गुजरते लोगों पेContinue reading “#Metime”

#Motivation

जिंदगी सफर बडा, राह भी अजीब हैं। हर एक मुकाम के लिए, मुश्किलें खडी भी हैं। इस पथ को चुनू या लौट जाऊं यहां से, मन के सामने विडम्बना अजीब है। फिर ख्याल आता कभी, कि क्यूं विराम की तलाश में, मन मचल रहा मेरा ऊँचाई कितनी भी हो, फासला तय कदम ही करे। मनContinue reading “#Motivation”

Khwahish

तू हर कदम मेरे साथ चले ये ख्वाहिश कभी ना थी। तू हर लम्हा मेरे करीब रहे, ऐसी तकाजा कभी ना थी। गुज़ारिश बस इतनी सी, दूर से ही सही, तुझे दीदार करने की इजाजत हो। नोकझोक भी हो और बातें करे बेसुमर, बस ऐसी किस्मत हो। कुछ मांगे तू मुझसे , उससे कायम करनेContinue reading “Khwahish”

Crush – unrequited Love

यूँ मोहब्बत होगेई हमें तुमसे, हुई वो हसीन मुलाकात जिस पल्से, न इजाजत थी पलको को तुम्हें निहारने की, फिर भी देखा तुम्हे झुकी निगाहों से। सोचा न था, खुदा की हमपे रहमत होगी, इस्क्क़ से फिर यूँ इब्बादत होगी, नैनो में सजाये सपनो की दुनिया, इस ज़िंदगी से और शिकायत न होगी। था खुलीContinue reading “Crush – unrequited Love”

#unconditionallove

Inspired by the song ” main phir bhi tumko chahunga” किसी से बेइंतेहा मोहब्बत हम करे, और वो भी हमें चाहने लगे, … ये जरूरी नहीं …. दा – उम्र हम उनका इंतजार करे, और वो मीलजाए हमें ऐसी उम्मीद रखना, …ये जरूरी नहीं…. दिल कहे उन पे कुर्बान हो जाएं, बदले में शायद हीContinue reading “#unconditionallove”

#Poetry

Wrote it after a long time.. लोगों को अक्सर ये सलाह देते हुए सुना है, कब तक रहोगे अकेले , क्यूं कोई हमसफ़र नहीं चुना है। ना होता हर कोई एक जैसा जो वफा ना निभाए, मौका दो खुदको शायद ही कोई मिलजाए। दिक्कत बस इतनी सी है जनाब: आज कल का प्यार मेरे समझContinue reading “#Poetry”