Poem, quotes, Uncategorized

Friendship – yaari

Dedicated to all those special friends of my life  who love me the way I am .

अक्सर इस बात का अबसोस मनाया करती..
हमेशा इस दुनिया की सिकायत किया करती..

नज़ाने क्यूं लगता था, कोई साथ ही नहीं है..
इस बात से डरती थी, कहीं कोई खफा तो नहीं है..

पर आज ये एहसास हुआ कि,
कभी अकेले में थी ही नहीं…
कुछ खास थे वो अपने
जिनसे कभी दूर हुए ही नहीं…

हर कदम पर कोई यार मिला मुझे …
अनजाने में ही सही, उनका साथ मिला मुझे…
माना कि गलती हुई अक्सर लोगों को समझने में..
पर इन यारों से बेहिसाब प्यार मिला मुझे..

आज तहे दिल से शुक्रिया अदा करती हूं..
ये जिंदगी उन यारों के नाम करती हूं..
गिने चुने कुछ ही दोस्त हैं मेरे..
दा- उम्र इस यारी को निभाने का वादा करती हूं…

Written by prabhamayee parida