photography, Travel, Uncategorized

Kingdom of Dreams – Gurgaon

Kingdom of Dreams is India’s first live entertainment, theatre and leisure destination. It is located in Gurgaon & for the first time I visited this place few days back though I am staying here from last 6 yrs . I heard a lot earlier about this place and recommended by most of the people . But couldn’t plan it earlier. Finally got a chance to visit the place because one of my colleague’s birthday. When I enter into this place the first word in mind ” out of the world”. I felt like I was not in Gurgaon and this place belongs to a different world. The architecture, ambience & ofcourse food . I couldn’t visit the theatre for live performance as it requires a whole day to spend your time & to live every moment of your life.

Sharing some pictures which may create an interest to visit this place.

#entranceofKOD

I visited this place at night but because of the interior setup & creativity it seems like evening.


This fabulous Kingdom brings to life a blend of India’s art, culture, heritage, craft, cuisine and performing art…all with the technological wizardry of today.
This is a destination in itself which is capturing the wonderful imagination of the world.

#worthvisiting

Must like , share & comment..

Poem, Uncategorized

Jai hind

Happy independence Day to all.

जश्न है अज़ादहिन्द की
देशभक्ति का है ये सोर,
इन्क़लाब – मेरा भारत महान के नारे देशभर में गूंजे चारो ओर.

तिरंगा मेरा ,
आसमान को चूमता
हवा में लहराता
देश के लिए हुए शहीदों के
कहानियां बतलाता
झुके हर सिर तिरंगा के आगे,
वतन से वफ़ा सिखलाता
फिर क्यों घोले हम आपस मे जहर,
न सहेंगे ये आतंक का कहर.

हो वो दुश्मन दूसरे मुल्क का,
या हो कोई देशद्रोही वो,
इस धरती की कसम, देश के लिए लेते हैं प्रण,.
न सुधरोगे तो कटेंगे सर.

Written by
Prabhamayee Parida

Poem, Uncategorized

Self motivation -2

घड़ी के कांटे की तरा समय खूब तेजी से भागे,
और उस वक्त के साथ पता न चला कब निकल आये इतने आगे. यूँ ही वक्त बदलता रहा, सफर युहीं चलता रहा.
बदली दुनिया, लोग भी बदले, और वक्त के सुर में हम भी बदले, पर शान से स्वाभिमान से आज भी जीते है और ये कायम रखेंगे खुद से हमारा ये वादा रहा.
ज़िन्दगी ने रुलाया तो कभी हसाया भी,
मुस्किलो के साथ जीना सिखाया भी,
खोने की अफ़सोस नही क्यों कि इस सफर में खुद कोपाया भी. अब थामना नही ,रुकना नही क्योंकि मंज़र अभी भी दूर कहीं, चलते जाना है मंजिल के राह में चाहे साथ कोई रहे या नहीं.

Written By
Prabhamayee Parida

photography, Travel, Uncategorized

Udaipur – Lake city of India

After spending my 2days in mount abu ( the only hill station of rajastan), today is the third day of my trip and currently I am in Udaipur ( the lake city of India). I had assumed before visiting Udaipur that the temperature must be above than 40degree. But I am really glad that it’s completely opposite to my instinct. Not like mount abu but yes I enjoyed the whole day and completed my today’s trip with 7 awesome places of udaipur.

View of this beautiful city sorrounded by lakes & mountains.

#fatehsagarlake #lakepichola

PC – prabhamayee

Poem, Uncategorized

A poem dedicated to myself

आज अचानक मुझे ये क्या हुए है,
लगता है कुछ बदल रहा है,
ये एहसास जो पहले कभी मेहसूस ना हुआ,
मेरी किस्मत शायद अपनी राह मोड रही है।

अपनी सक्सियत में भूल गई थी,
ये नहीं थी में कभी, जो में बन चुकी थी,
काश होती मेरी दुनिया अरों की तरह
कल तक किस्मत से ये उम्मीद की थी।
पर हूं में औरों से अलग , भावनाओं में बेहकी जरूर थी,
पर कमजोर तो में तब भी नहीं थी।

ना अब कोई सिकवा है किसिसे,
ना है नाराजगी इस ज़ि्दगी से,
फिर से दिमाग के बदले चुना है अपने दिल को,
इस बहाने आज रूबरू हुई हूं मैं खुदसे।

Written by prabhamayee parida